युगांडा

 

युगांडा में किशोरियां

युगांडा में रहने वाली लड़कियां कई चुनौतियों का सामना करती हैं जो उनके कल्याण, विकास तथा भविष्य को प्रभावित कर सकती हैं। विद्यालय जाने वाली लड़कियों को लिंग के आधार पर पक्षपात तथा किताबों, पाठ्यक्रम और अध्यापकों से भी भेदभाव का सामना करना पड़ता है। अत्यधिक गरीब तथा अधिक ग्रामीण परिवारों में लड़कियों के लिए विद्यालय जाना और अधिक कठिन होता है क्योंकि शिक्षा केवल लड़कों के लिए महत्वपूर्ण मानी जाती है। युगांडा में लड़कियों के उनके पुरुष साथियों की तुलना में विद्यालय छोड़ने, जल्दी विवाह करने, और गरीबी का सामना करने की संभावना अधिक होती है। Download our Uganda fact sheet here to learn more.

  • 35% of girls in Uganda drop out of school because of early marriage.
  • In 2016, there were 1,162,715 displaced people living in Uganda – and that number continues to increase.
  • 85% of South Sudanese refugees are women and children under the age of 18.
  • 73% of refugee children are enrolled in primary school and only 15% are enrolled in secondary school.

Girl Up युगांडा में क्या कर रहा है?

Girl Up युगांडा में UN शरणार्थी एजेंसी (UNHCR) के कार्यक्रमों में सहयोग कर रहा है जिसका लक्ष्य यह सुनिश्चित करना है कि विस्थापित लड़कियां विद्यालय में नामांकित हों और उन्हें गुणवत्तापरक शिक्षा प्राप्त हो।

  • शिक्षा तक पहुंच बढ़ाना

    • इस कार्यक्रम में पाठ्य पुस्तकें, विद्यालय शुल्क का भुगतान और आवश्यक यूनिफॉर्म का प्रावधान, ऐसी लड़कियों को शिक्षा उपलब्ध कराना शामिल है जिनके परिवार उनकी शिक्षा का खर्च न उठा पाएं। उच्च शरणार्थी नामांकन वाले विद्यालयों में क्षमता बढ़ाने तथा अधिक छात्रों को पहुंच उपलब्ध करने के लिए कक्षाकक्ष, शौचालय, मनोरंजन सुविधाएं तैयार की जा रही हैं।
  • शिक्षा की गुणवत्ता सुनिश्चित करना

    • लड़कियों की शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने और उनकी साक्षरता में सुधार लाने के लिए नवाचारी शिक्षण तकनीकें कार्यान्वित की जा रही हैं। “बालिका शिक्षा अभियान” लड़कियों का नामांकन तथा कक्षा में उनकी सक्रियता को प्रोत्साहित करने के लिए गर्ल्स क्लब बनाता है। “शिक्षा में समाचार-पत्र” कार्यक्रम गैर-पाठ्यपुस्तक पठन सामग्री उपलब्ध कराता है और पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करने तथा इच्छा बढ़ाने का प्रयास करता है।
  • पढ़ने के लिए एक सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराना

    • लड़कियों को विद्यालय में सुरक्षित तथा समर्थित महसूस करवाने के लिए इस कार्यक्रम में महिला अध्यापिकाओं को नियुक्त करने तथा बनाए रखने पर जोर दिया जाता है। अध्यापकों को सर्वश्रेष्ठ शिक्षण पद्धतियों के बारे में और लैंगिक-संवेदनशीलता के बारे में प्रशिक्षण दिया जाता है।

Raise funds for refugee girls in Uganda here.

युगांडा के बारे में

युगांडा पूर्वी अफ्रीका में चारों ओर से भूमि से घिरा देश है। इसे वर्ष 1962 में यूनाइटेड किंगडम से स्वतंत्रता प्राप्त होने के बाद आधिकारिक रूप से युगांडा गणराज्य के नाम से जाना जाने लगा। हालाँकि यहां की आधिकारिक भाषा अंग्रेजी है, परंतु इस देश में लगभग 40 भाषाएं बोली जाती हैं जिनमें लुगांडा सबसे आम है। यह देश विश्व की सबसे युवा जनसंख्या वाले देशों में से एक है जहां औसत आयु 15 वर्ष है।

वर्ष 2013 के अंत के बाद से युगांडा में सीमा पार करके आने वाले शरणार्थियों की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई है। शरणार्थी जनसंख्या में कई राष्ट्रीयताओं वाले लोग हैं और नौ बस्तियों में और राजधानी कम्पाला में रहने वाले शरणार्थी हैं।