केली, ग्वाटेमाला

केली

केली का घर

टोटोनीकापेन पश्चिमी ग्वाटेमाला में स्थित है, जिसमें 97% आबादी स्थानीय जातीय समूहों से संबंधित है। केली यहां अपने पिता और सौतेली माँ के साथ रहती है।

ग्वाटेमाला के स्थानीय लोगों के साथ वर्षों से भेदभाव और दुर्व्यवहार किया गया है। परिणामस्वरुप, वे अक्सर एकांत ग्रामीण समुदायों में रहते हैं और उनकी स्वास्थ्य सेवाओं और शिक्षा तक पहुंच नहीं है

keyliCollage1

ग्वाटेमाला- हरी-भरी पहाड़ियों, लंबे धुंधले पहाड़ों और मनमोहक दृश्यों वाला एक सुन्दर देश, जिसमें मध्य अमेरिका में सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और जिसमें युवा और अद्भुत विविध आबादी निवास करती है।

एक लड़की होने के नाते

केली एक स्थानीय लड़की है, इसलिए वह हर दिन चुनौतियों का सामना करती है। ग्वाटेमाला में कुपोषण, किशोरावस्था में गर्भधारण और मातृ मृत्यु की उच्च दर का सामना करना पड़ता है जो सभी लैटिन अमेरिकी देशों के बीच शीर्ष 10 में है। विशेष रूप से स्थानीय लड़कियां औसतन मात्र तीन वर्ष के लिए स्कूल जाती हैं और सभी किशोर गर्भधारण का 80% यौन हमलों के कारण होता है।

केली 14 वर्ष की है और पहले से ही अपनी उम्र की कई ऐसी लड़कियों को जानती है, जिन्होंने काम करने और अपने परिवारों का भरण-पोषण करने के लिए स्कूल छोड़ दिया है। वह खुद के लिए एक बेहतर जीवन बनाने हेतु दृढ़ संकल्प है।

केली और संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र केली जैसे स्थानीय लड़कियों को सहायता की आवश्यकता का समर्थन करता है। यही कारण है कि UN एजेंसियां Saqilaj B’e नामक संयुक्त कार्यक्रम में स्थानीय सरकार के साथ मिलकर काम कर रही हैं: स्थानीय किशोर लड़कियों के अधिकारों के बारे में दृढ़ता से बताने का मार्ग

"मैं दूसरों के सामने बात करने से डरती थी, लेकिन अब नहीं। मैं एक शिक्षक की तरह आत्मविश्वास महसूस करती हूं।" -केली

Saqilaj B’e एक समग्र कार्यक्रम है, जिसे ग्वाटेमाला में स्थानीय किशोर लड़कियों के सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए तैयार किया गया है। इस कार्यक्रम के माध्यम से, केली साप्ताहिक कार्यशालाओं में भाग लेती है, जो उसे अपने अधिकारों के बारे में बताती हैं, उसे खुद को व्यक्त करने का मौका देती हैं, और उसे प्रासंगिक जानकारी प्रदान करती है जिसमें लिंग आधारित हिंसा और स्वास्थ्य संबंधी मुद्दे शामिल हैं।

भविष्य हमारे पर निर्भर करता है!

Saqilaj B’e यह सुनिश्चित कर रहा है कि लड़कियों की मूलभूत आवश्यकताओं को पूरा किया जा रहा है और लड़कियों को उनके समुदाय में अगली पीढ़ी का नेतृत्वकर्ता बनने के लिए सक्षम बनाया गया है।

"मैंने जान लिया है कि अगर मैं दृढ़ हूँ, तो मैं जो चाहूं वह कर सकती हूं। मैंने जान लिया कि मेरे पास अधिकार हैं और जो मुझे नए अवसर देते हैं।" -केली

स्क्रीन शॉट 2015-01-06 को 3.33.41 बजे